कोरोना की चपेट में आई भारतीय नौसेना, INS आंग्रे पर मौजूद 25 जवान कोरोना संक्रमित, अस्पताल में इलाज जारी

राष्ट्रीय
कोरोना की चपेट में आई भारतीय नौसेना, INS आंग्रे पर मौजूद 25 जवान कोरोना संक्रमित, अस्पताल में इलाज जारी

कोरोना की चपेट में आई भारतीय नौसेना, INS आंग्रे पर मौजूद 25 जवान कोरोना संक्रमित, अस्पताल में इलाज जारी

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के कहर से अब भारतीय नौसेना भी अछूती नहीं रह गई है। पश्चिमी नौसेना कमान के तट पर मौजूद लॉजिस्टिक और एडमिनिस्ट्रेटिव सपोर्ट बेस आईएनएस आंग्रे पर करीब 25 जवान कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी।

जानकारी के अनुसार, आईएनएस आंग्रे इस वक्त मुंबई के समुद्र तट पर है। जैसे ही जहाज में मौजूद लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने की बात सामने आई, तत्काल प्रशासन हरकत में आ गया है। जहाज पर मौजूद अन्य लोगों का भी टेस्ट किया गया है।

सेनाध्यक्ष एमएम नरवणे ने शुक्रवार को बताया था कि ‘इंडियन आर्मी में से केवल आठ लोग कोरोना संक्रमित पाये गये  हैं। जिनमें आठ में से दो डॉक्टर और एक नर्सिंग असिस्टेंट हैं। चार संक्रमितों पर इलाज का असर दिखाई दे रहा है।

सेना के जो जवान किसी कोरोना संक्रमितों के संपर्क में नहीं आए हैं, उन्हें वापस उनकी यूनिट में भेज दिया जाएगा।हमने पहले ही बंगलूरू से जम्मू और बंगलूरू से गुवाहाटी के लिए दो विशेषज्ञ ट्रेनों का इंतजाम किया हुआ है। भारतीय नौसेना के कर्मियों को ऐसे समय पर कोरोना हुआ है जब अमेरिकी नौसेना में इसके मामले बढ़ रहे हैं।

भारतीय नौसेना अध्यक्ष एडमिरल करमबीर सिंह ने भी चिंता व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि हमें ये सुनिश्चित करना होगा की युद्धपोतों और पनडुब्बियों जैसी परिचालन संपत्तियां वायरस से मुक्त रहें और नौसेना हमेशा अपने सैनिकों के साथ देश की सेवा के लिए तैयार रहे।

नौसेना अध्यक्ष ने कहा कि हमें अच्छी परिस्थितियों की आशा रखते हुए हमेशा बेहतर के लिये तैयार रहना चाहिये, हमें सबसे खराब स्थिति के लिए तैयार रहने की जरूरत है, एक वाकई एक लंबी लड़ाई है। सशस्त्र बल कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए हरसंभव उपाय कर रहे हैं।

ETCKhabar.com : हिंदी खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं

[addthis tool=addthis_vertical_follow_toolbox]

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *