National News

राजस्थान के कोटा में फंसे स्टूडेंट्स को लेकर निकली बसें उत्तर प्रदेश वापस लौटीं, लॉकडाउन की उड़ी धज्जियां

राजस्थान के कोटा में फंसे स्टूडेंट्स को लेकर निकली बसें उत्तर प्रदेश वापस लौटीं, लॉकडाउन की उड़ी धज्जियां

लखनऊ/जयपुर: शनिवार को कोटा से छात्रों को लाने के लिए जिला प्रशासन ने ISBT बस स्टैंड से 50 बसों को रवाना किया था तो कोटा से एक बस छात्रों को लेकर फतेहपुर सीकरी पहुँची। छात्रों से भरी बस के फतेहपुर सीकरी पहुँचने पर प्रशासन मौके पर पहुँच गया। फतेहपुर सीकरी एक होटल में दैनिक क्रिया के लिए छात्रों को कुछ देर के लिए सभी को रुकवाया गया।

बस से उतरते ही प्रशासन ने सभी की स्क्रीनिंग कराई और फिर उसके बाद बस को भी पूरी तरह से सेनिटाइज कराया गया। फतेहपुर सीकरी पहुँचे यह सभी छात्र मैनपुरी औरैया, इटावा और कानपुर के रहने वाले थे।

आपको बताते चले कि यूपी के कोटा में लॉक डाउन के कारण सैकड़ो छात्र फंस गए थे। परेशानी होने पर इन छात्रों ने ट्वीट कर सूबे के मुखिया से कोटा से निकालने की गुहार लगायी थी जिसके बाद मुख्यमंत्री के निर्देश पर आगरा ISBT से शुक्रवार को 200 बसों को छात्रों को लाने के लिए भेजा गया था।

फतेहपुर सीकरी पहुँचे 30 छात्रों के दल में शामिल एक छात्रा ने बताया कि लॉक डाउन के कारण सारी कोचिंग बंद हो गयी थी और हॉस्टल में भी सुविधाओं का अभाव हो रहा था। हॉस्टल मालिक भी लगातार उनसे जाने का दवाब बना रहा था तो सामने की एक बिल्डिंग में एक को कोरोना होने से और ज्यादा मुश्किलें बढ़ने लगी।

कोटा के हॉस्टलों में फंसे सभी छात्रों ने ट्विटर के माध्यम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गुहार लगाई थी। आज कोटा से निकलकर घर जाने पर काफी अच्छा महसूस हो रहा है। कोरोना को लेकर बस में सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा गया है और उन्हें मास्क व सेनिटाइजर भी दिए गए है।

मौके पर मौजूद प्रशासनिक अधिकारी का कहना था कि कोटा से एक बस आई है जिसमे 30 छात्र है। सभी को एक होटल के पास रुकवाया है। सभी की स्क्रीनिंग कराकर दैनिक क्रिया के लिए होटल भेजा है। छात्रों के बस से उतरने के बाद बस को भी सेनिटाइज कराया गया है। सभी छात्र मैनपुरी औरैया, इटावा और कानपुर के रहने वाले है जिन्हें उनके गंतव्य तक पहुँचाया जाएगा।

लॉकडाउन के दौरान राजस्थान में फंसे उत्तर प्रदेश के करीब साढ़े 7 हजार कोचिंग छात्रों को लेने के लिए शुक्रवार को यूपी सरकार ने 252 बसें कोटा भेजी। ये सभी छात्र मेडिकल और इंजीनियरिंग की तैयारियों के लिए कोटा से कोचिंग कर रहे हैं।

वहीं के होस्टलों और पीजी में रह रहे हैं। गुरुवार को राजस्थान और यूपी सरकार ने कोटा में फंसे छात्रों को वापस लाने के लिए बसों का इंतजाम करने का फैसला लिया था। इसके बाद शुक्रवार को 102 बसें झांसी और 150 बसें आगरा से रवाना हुईं। मगर इससे पहले बस स्टैंड पर हजारों छात्रों के एक साथ इकट्ठा होने से लॉकडाउन की धज्जियां उड़ गई।

ETCKhabar.com : हिंदी खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं
Facebook Comments
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top