अरविंद केजरीवाल ने ली तीसरी बार CM पद की शपथ, भाषण में दिए राष्ट्रीय राजनीति के संकेत

दिल्ली प्रदेश राजनीति
अरविंद केजरीवाल ने ली तीसरी बार CM पद की शपथ, भाषण में दिए राष्ट्रीय राजनीति के संकेत

अरविंद केजरीवाल ने ली तीसरी बार CM पद की शपथ, भाषण में दिए राष्ट्रीय राजनीति के संकेत

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के रामलीला मैदान में तीसरी बार सीएम पद की शपथ ली। दिल्ली के उपराज्यपाल ने उन्हें संविधान की शपथ दिलाई। केजरीवाल के साथ 6 कैबिनेट मंत्रियो ने भी शपथ ली। शपथ लेने के साथ ही अरविंद केजरीवाल दिल्ली की राजनीति में इतिहास रच दिया।

अरविंद केजरीवाल लगातार तीसरी बार शपथ लेने वाले दूसरे मुख्यमंत्री बन जाएंगे। इससे पहले कांग्रेस से शीला दीक्षित यह कारनामा कर चुकीं हैं। यह केजरीवाल का करिश्माई नेतृत्व ही है, जो आम आदमी पार्टी दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा को 8 के मुकाबले 62 सीटों से हराकर तीसरी बार दिल्ली में सरकार बना रही है।

6 मंत्रियों ने भी ली शपथ

केजरीवाल के साथ 6 कैबिनेट मंत्रियो ने भी शपथ ली है। नए मंत्रिमंडल में मनीष सिसोदिया, सतेंद्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, इमरान हुसैन, राजेंद्र पाल गौतम को जगह मिली है। ये लोग पुराने मंत्रीमंडल में भी शामिल थे।

केजरीवाल दिल्ली के पहले और एकमात्र मुख्यमंत्री हैं जिन्होंने अपने शपथ ग्रहण समारोहों के लिए ऐतिहासिक रामलीला मैदान को प्राथमिकता दी है, जबकि उनके पूर्ववर्तियों ने राज निवास में शपथ ली थी। राष्ट्रीय राजधानी में यह जगह वास्तव में केजरीवाल के दिल के करीब है क्योंकि इसी जगह से 2011 में केजरीवाल अन्ना हजारे के इंडिया अगेंस्ट करप्शन आंदोलन में शामिल हुए थे। बाद में यह आंदोलन 2012 में केजरीवाल की राजनीति का प्रवेश द्वार बन गया।

केजरीवाल के बयान की बड़ी बातें

  1. अरविंद केजरीवाल ने कहा, पूरे देश में नई राजनीति का डंका बज रहा है। दिल्ली की जनता ने देश की राजनीति बदल दी है। अब हर दिल्ली की बात हो रही है। कई राज्य दिल्ली की तरह मोहल्ला क्लीनिक, फ्री बिजली देने की बात करने लगे हैं।
  2. सीएम ने कहा, हमारे विरोधियों ने हमको जो कुछ बोला हमने उनको माफ कर दिया, आज अपने विरोधी पक्ष वालों से भी निवेदन करता हूं कि जो कुछ राजनैतिक उठापटक हुई उसे भूल जाओ,अब मैं सारी पार्टियों के साथ मिलकर दिल्ली का विकास करना चाहता हूं।
  3. उन्होंने कहा, पिछले 5सालों में हम लोगों की यहीं कोशिश रही है कि किस तरह से दिल्ली का तेजी से विकास हो और अगले 5साल भी हमारी यही कोशिश रहेगी। सब लोग अपने गांव में फोन करके कह देना हमारा बेटा CM बन गया, अब चिंता की कोई बात नहीं है।
  4. केजरीवाल ने कहा, मैंने इस समारोह में PM नरेंद्र मोदी जी को निमंत्रण भेजा था। लेकिन वो नहीं आ सके शायद वह किसी अन्य कार्यक्रम में व्यस्त हैं। लेकिन इस मंच के माध्यम से मैं दिल्ली को विकसित करने और इसे आगे बढ़ाने के लिए PM जी और केंद्रीय सरकार से आशीर्वाद चाहता हूं।
  5. सीएम ने कहा, कुछ लोग कह रहे हैं कि केजरीवाल सब कुछ फ्री दे रहा है। प्रकृति ने भी हमें बहुमूल्य चीजें फ्री दी हैं। मां का प्यार फ्री होता है। पिता बिना खाए बच्चे को आगे बढ़ाता है तो यह तपस्या फ्री होती है। श्रवण कुमार का समर्पण भी फ्री ही है। इसलिए, केजरीवाल अपने लोगों से प्यार करता है और इसलिए यह प्यार भी फ्री है।
  6. उन्होंने कहा, चुनाव खत्म हो गए। अब यह मायने नहीं रखता कि किसने हमें वोट दिया। अब पूरी दिल्ली ही मेरा परिवार है। मैं सबका सीएम हूं, चाहें वह किसी पार्टी या धर्म या समुदाय का हो।
  7. केजरीवाल ने कहा, यह मेरी जीत नहीं है। यह हर दिल्ली वाले की जीत है, हर परिवार की जीत है। पिछले पांच साल में हमने काम करके सभी दिल्लीवासियों को राहत देने का काम किया।

अब तक ऐसा रहा केजरीवाल का राजनीतिक करियर

दिल्ली में 2013 में चुनाव हुए और केजरीवाल कांग्रेस की मदद से दिल्ली के मुख्यमंत्री बने। उन्होंने 28 दिसंबर, 2013 को रामलीला मैदान में पहली बार शपथ ली।हालांकि, 49 दिनों के बाद केजरीवाल ने 14 फरवरी, 2014 को इस्तीफा दे दिया, 2015 में शहर में फिर से चुनाव हुए और उसी स्थान से एक साल बाद 14 फरवरी, 2015 को उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में दूसरी बार शपथ ली।

कार्यकाल पूरा करने के बाद, केजरीवाल तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में फिर से चुने गए हैं और उसी स्थान से शपथ लेंगे। केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के अलावा, यह जगह प्रमुख हस्तियों की उपस्थिति और ऐतिहासिक घटनाओं का गवाह रहा है।

ETCKhabar.com : हिंदी खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *