भारत ने एंटी-सैटेलाइट मिसाइल का किया सफल परीक्षण, दुनिया का चौथा देश बना

टेक्नोलॉजी राष्ट्रीय
भारत ने एंटी-सैटेलाइट मिसाइल का किया सफल परीक्षण, दुनिया का चौथा देश बना

भारत ने एंटी-सैटेलाइट मिसाइल का किया सफल परीक्षण, दुनिया का चौथा देश बना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देशवासियों को संबोधित करते हुए बड़ा ऐलान किया। उन्होंने कहा कि आज कुछ ही समय पहले भारत ने बड़ी उपलब्धि हासिल करते हुए अंतरिक्ष में एक सैटेलाइट को मार गिराया है। भारत ने इस मिशन को मिशन शक्ति का नाम दिया है और आज भारत अंतरिक्ष में महाशक्ति बन गया है। मोदी ने डीआरडीओ के सभी वैज्ञानिकों समेत सभी देशवासियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि वे पराक्रम करने वाले सभी साथियों का अभिनंदन करते हैं।

उन्होंने कहा कि हमारा संदेश शांति बनाए रखना है कि न युद्ध का माहौल बनाना। मोदी ने कहा कि यह एक पूर्व निर्धारित लक्ष्य था। उन्होंने कहा कि मिशन शक्ति अत्यंत कठिन ऑपरेशन था। मिशन शक्ति को तीन मिनट में पूरा किया। एंटी सैटेलाइट ए सेट मिसाइल भारत की विकास यात्रा की दृष्टि से देश को नई दिशा देगा, यह किसी देश के विरुद्ध नहीं था। यह किसी भी अंतरराष्ट्रीय कानून या संधि समझौतों का उल्लंघन नहीं करता है, हमने आधुनिक तकनीक का उपयोग देश के 130 करोड़ नागरिकों की सुरक्षा के लिए किया है।

इसे भी पढ़ें:

उन्होंने कहा कि एक मजबूत भारत का होना बेहद जरूरी है। लक्ष्य 300 किलोमीटर दूर था। अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत ऐसा करने वाला दुनिया का चौथा देश बन गया है। इससे पहले सुबह 11.23 बजे पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कहा था, मेरे प्यारे देशवासियों, आज सवेरे लगभग 11.45 – 12.00 बजे मैं राष्ट्र के नाम एक महत्वपूर्ण संदेश लेकर आप के बीच आऊंगा, टेलीविजन, रेडियो या सोशल मीडिया पर मेरा संदेश सुनें।

मोदी ने कहा कि उपग्रह हमारे जीवन शैली का अभिन्न हिस्सा बन गया है और विभिन्न उद्देश्यों के लिए हमारे पास पर्याप्त उपग्रह हैं। अलग-अलग क्षेत्रों के विकास में इनका महत्वपूर्ण योगदान है। इन क्षेत्रों में कृषि, रक्षा, सुरक्षा, संचार, मौसम आँकलन, टीवी प्रसारण, शिक्षा, चिकित्सा आदि शामिल हैं। उन्होंने कहा कि भविष्य में पूरे विश्व में उपग्रह का महत्व बढ़ता ही जाएगा जिसके कारण इसकी सुरक्षा भी महत्वपूर्ण हो गई है।

ETCKhabar.com : हिंदी खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *